मनरेगा पशु शेड योजना 2023 क्या है | Mgnrega pashu Shed Yojana पात्रता, डॉक्यूमेंट, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Written by Vinod Yadav

Updated on:

Mgnrega pashu Shed Yojana – हमारे किसान भाई कृषि कार्य के साथ-साथ पशु पालन भी करते हैं। पशुपालन से उनका खर्चा चलता है। किसान कृषि के साथ-साथ पशुपालन इसलिए करते हैं क्योंकि पशुओं से हमें कई प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं। एवं किसान पशुओं के दूध को बेचकर एवं इनसे प्राप्त अन्य सामग्री को बेचकर पैसे कमा सकता है। जैसे कि दूध, रूई आदि।

इनसे उनकी आय में काफी वर्दी होती है। परंतु अब पशुओं को पालने में बहुत खर्चा आने लगा है।

इन सब बातों का ध्यान रखते हुए मध्य प्रदेश की सरकार ने Manrega pashu Shed Yojana 2023 को लागू किया है। यह योजना क्या है?,इसके क्या उद्देश्य हैं?, इस योजना के क्या लाभ हैं?, इसमें आवश्यक पात्रता, आवश्यक दस्तावेज एवं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन आदि सब के बारे में आज हम पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे। मध्यप्रदेश के साथ ही यह योजना भारत के तीन और राज्यों बिहार, उत्तर प्रदेश एवं पंजाब में भी लागू की गई है। आज की इस पोस्ट में हम इन सभी के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे।

मनरेगा पशु शेड योजना क्या है?, Manrega pashu Shed Yojana kya hai?

किसान भाई कृषि के साथ-साथ ही बहुत पुराने समय से पशु पालन भी करते आ रहे हैं। हम सब जानते हैं सभी किसानों की आय का प्रमुख साधन पशु भी होता है। क्योंकि पशुपालन करके वह अपनी आय में वृद्धि और जीवन का गुजारा करते हैं।

परंतु अब किसानों की आर्थिक स्थिति सही नहीं है एवं किसान पशुपालन करने में असमर्थ हैं, क्योंकि उनके पास पशुओं को खिलाने पिलाने के लिए पर्याप्त पैसे नहीं है।

इन सब समस्याओं को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश की सरकार ने मध्य प्रदेश के किसानों के लिए Mgnrega pashu Shed Yojana लागू की है। इस योजना के तहत उनके पशुओं के रहने के स्थान पर शेड का प्रयोग किया जाएगा। ताकि पशु आराम से रह सके उनको कोई परेशानी ना हो। किसानों की खुद की जमीन पर पशु शेड का निर्माण करवाया जाएगा एवं इसके साथ ही यूरिनल टैंक का भी निर्माण करवाया जाएगा। जिससे पशु को पानी पीने में आसानी होगी।

सभी ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले किसान पशुपालन इस योजना का लाभ बहुत आसानी से उठा सकते हैं। पहले इस योजना का लाभ लघुपशु पालक नहीं उठा पाते थे, परंतु अब लघु पशु पालक भी इस योजना का लाभ उठा पाएंगे। इस योजना के अंतर्गत पशुपालक को ₹450000 की वित्तीय सहायता दी जाती है। जिसमें से पशुपालक को ₹90000 की मार्जिन प्रदान की जाती है। वह उसके साथ ही पशुपालक को ₹360000 का बैंक से लोन भी मिलता है।

मनरेगा पशु शेड योजना के उद्देश्य – Mgnrega pashu Shed Yojana

प्राचीन समय से ही किसान पशुपालन करते आ रहे हैं। इसलिए पशु पालन भी भारत के इतिहास में एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। और इसी कारण से भारत के कई लोग अपना जीवन का गुजारा कर रहे हैं।

Mgnrega pashu Shed Yojana का मुख्य उद्देश्य यह है, कि किसानों के पशुओं के लिए उनकी ही जमीन पर शेड बनवाया जाएगा ताकि उन्हें रहने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो। इससे पशुओं को पालने की संख्या में वृद्धि होगी।

मनरेगा पशु शेड योजना के लाभ एवं विशेषताएं – Mgnrega pashu Shed Yojana Benefits

  • Mgnrega pashu Shed Yojana को मध्य प्रदेश के अलावा 3 अन्य राज्यों में भी लागू किया गया है।
  • इस योजना को सफलता मिलने के बाद सभी राज्यों में इस योजना को पूर्णतया लागू कर दिया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश के सभी किसान पशु पालकों की आय में काफी वृद्धि होगी।
  • साथ ही में ग्रामीण इलाकों में रोजगार की संभावनाएं नजर आएगी।
  • मध्यप्रदेश के ऐसे लोग जिनकी आय का प्रमुख साधन पशुपालन है उनको इस योजना से काफी लाभ होगा।
  • मध्य प्रदेश में रहने वाले ऐसे किसान जिनके पास चार पशु हैं, तो आवेदन कर्ता को ₹160000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।
  • Mgnrega pashu Shed Yojana में जो आवेदन कर रहा है, उस उसके पास कम से कम 3 पशु होना आवश्यक है।
  • जिन किसान पशुपालकों के पास 3 पशु होंगे उनको 75000 से लेकर ₹80000 तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • ग्रामीण इलाकों की विधवा महिलाएं एवं गरीब किसान आदि इस योजना का लाभ उठाकर पशुपालन व्यवसाय को शुरू कर सकते हैं।
  • इस योजना से पालतू पशुओं की संख्या बढ़ेगी।
  • अगर किसी पशुपालक के पास 6 पशु हैं तो उसे शेड,टैंक आदि के निर्माण के लिए₹160000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • Mgnrega pashu Shed Yojana का लाभ पशु पालकों को पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दिया जाएगा।
  • पशु शेड बनने के कारण पशुओं का मल, मूत्र एक जगह पर इकट्ठा हो सकेगा, जिससे खाद का निर्माण होगा और किसान की आय में वृद्धि होगी।

मनरेगा पशु शेड योजना के तहत शेड का निर्माण

पशुओं के शेड के निर्माण में चारों ओर से आरामदायक हवा आनी चाहिए एवं शेड एक स्वच्छ जगह पर बनाया जाना चाहिए, क्योंकि इससे पशुओं में स्वच्छता रहती है। और उसे किसी भी प्रकार की बीमारी नहीं होती। किस प्रकार से शेड का निर्माण कराया जाना चाहिए, शेड का निर्माण करवाते समय किन किन बातों पर अधिक बल देना चाहिए आदि सब के बारे में हम नीचे दिए गए बिंदुओं में विस्तार से जानेंगे।

  1. सबसे पहले हमें शेड के निर्माण के लिए एक स्वच्छ जगह का चयन करना चाहिए। आप की कृषि भूमि से थोड़ी ऊपर शेड का निर्माण कराया जाना चाहिए, क्योंकि पशुओं के मूत्र आराम से नीचे बह जाए। इसको ऊपर बनाने का एक फायदा यह भी है कि बारिश के समय में पशुओं को किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं होती।
  2. इसके साथ ही पशु शेड ऐसी जगह पर बनना चाहिए जहां तीन तरफ से सूरज की रोशनी आती हो। इस वजह से पशुओं को अधिक मात्रा में धूप मिल सकेगी। गौशालाओं में खिड़कियां और दरवाजे भी होने चाहिए ताकि वह ठंड से बच सके।
  3. जब भी आप पशुओं के लिए शेड का निर्माण करवाएं तो पशुपालक के घर की दूरी पशु शेड से ज्यादा दूर ना हो। क्योंकि कभी भी किसी भी प्रकार की कोई जरूरत पड़े तो पशु पालक वहां पर उपस्थित हो सके। इससे एक और फायदा यह भी है कि पशु पालक को पशुओं के लिए चारा डालने के लिए ज्यादा चलना नहीं पड़ेगा। साथ ही में पशु शेड का निर्माण सड़क के पास ही करवाएं क्योंकि पशुओं के लिए चारा लाने में कोई परेशानी ना हो। एवं दूध को बेचने में किसी भी प्रकार की कोई मुसीबत नहीं आएगी।
  4. पशु के शेड में बिजली का होना अनिवार्य है। क्योंकि बिजली के होने से गर्मियों में पंखे से पशुओं को मच्छर से बचाया जा सकता है। और रात के वक्त में बिजली से बल्ब भी जलाया जा सकता है।
  5. पशु शेड का निर्माण एक स्वच्छ वातावरण वाले स्थान पर करवाएं। क्योंकि गंदे वातावरण वाले स्थान पर पशु बीमार पड़ सकता है। उसके दूध में अनेक प्रकार की बीमारियां उत्पन्न हो सकती हैं। इस कारण स्वच्छ स्थान पर पशु शेड का निर्माण करवाएं।

Mgnrega pashu Shed Yojana के अंतर्गत शामिल पशु

Mgnrega pashu Shed Yojana के तहत निम्नलिखित पशु पालन कर्ताओं को लाभ दिया जाएगा।

गाय, भैंस, बकरी एवं मुर्गी आदि पशुओं को इस योजना के अंतर्गत लाभ की प्राप्ति होगी। आप भी इन पशुओं का पालन करते हैं तो आपको भी इस योजना के तहत लाभ उठाने का मौका मिलेगा।

Mgnrega pashu Shed Yojana List 2023

मनरेगा पशु शेड योजना में आपका नाम है कि नहीं। अगर आप भी इस योजना के अंतर्गत अपना नाम जानना चाहते हैं, तो आपको अपनी गांव की ग्राम पंचायत में जाकर इसकी जांच करनी होगी। क्योंकि ग्राम पंचायत में मनरेगा पशु शेड योजना से संबंधित लिस्ट लगा दी जाती है। वहां पर जाकर आप अपना नाम देख सकते हैं।

मनरेगा पशु शेड योजना में पात्रता – Mgnrega pashu Shed Yojana

  1. मनरेगा पशु शेड योजना का लाभ उन्हीं लोगों को मिलेगा जो अपने राज्य में किसी छोटे गांव या शहर में लंबे समय से रह रहे हैं।
  2. जो पशुपालक इसमें आवेदन कर रहा है वह आवेदन कर्ता मध्यप्रदेश राज्य का मूलनिवासी होना चाहिए। या फिर उस राज्य का निवासी होना चाहिए जिस राज्य में यह योजना चल रही है।
  3. Mgnrega pashu Shed Yojana का लाभ उन्हीं किसानों को दिया जाएगा जिन किसानों की आजीविका केवल पशु पालन पर निर्भर करती है। जिन किसानों की आजीविका पशुपालन पर निर्भर करती है वह इस योजना का लाभ बहुत आसानी से ले पाएंगे।
  4. इस योजना के अंतर्गत उन सभी युवाओं को भी शामिल किया गया है, जो कि लॉकडाउन के समय अपनी नौकरियां छोड़कर गांव में आ गए और गांव में नौकरी की तलाश कर रहे हैं इस प्रकार के युवाओं को इस योजना का लाभ प्राप्त मिलेगा।
  5. इस योजना में जो भी पशुपालक आवेदन कर रहा है, उसकी आयु 20 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  6. आवेदन कर्ता के पास कम से कम 3 पशु होना अनिवार्य है। तभी वह इस योजना का लाभ उठा पाएगा।

मनरेगा पशु शेड योजना में आवश्यक दस्तावेज – Mgnrega pashu Shed Yojana Document Requirment

  • आवेदन कर्ता के मोबाइल नंबर
  • आवेदन कर्ता की ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज का अपना नवीनतम फोटो
  • मनरेगा जॉब कार्ड।
  • बैंक पासबुक
  • आवेदन कर्ता का आधार कार्ड
  • आवास निवास प्रमाण पत्र

मनरेगा पशु शेड योजना में पंजीकरण(रजिस्ट्रेशन) – Mgnrega pashu Shed Yojana Registration

इस योजना में आवेदन की प्रक्रिया हाल ही में शुरू कर दी गई है। इस योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए किसी भी प्रकार की कोई भी वेबसाइट अभी तक जारी नहीं की गई है। इस योजना में अभी केवल ऑफलाइन ही आवेदन किया जा सकता है जिसकी संपूर्ण प्रक्रिया नीचे लिखी गई है।

  1. Mgnrega pashu Shed Yojana में आवेदन करने के लिए आवेदन कर्ता को बैंक से या फिर किसी अन्य स्थान से फार्म प्राप्त करना होगा। आवेदन करता ऑनलाइन भी फॉर्म डाउनलोड कर सकता है
  2. आवेदन फॉर्म प्राप्त कर लेने के बाद आवेदन करता को उसमें पूछी गई संपूर्ण जानकारियों को लिख देना है।
  3. इसके पश्चात फॉर्म के मुताबिक आवश्यक फोटो कॉपियों को उनके साथ लगाएं। साथ ही में दस्तावेज नंबर भी दर्ज करें।
  4. फिर इसके बाद आपको अपना फॉर्म उस बैंक में जमा करवाना होगा जिस बैंक से आप ऋण लेना चाहते हैं।
  5. इसके बाद बैंक के अधिकारी या कर्मचारियों के द्वारा आपके द्वारा जमा कराए गए फॉर्म की जांच की जाएगी। अगर उसमें किसी भी प्रकार की कोई गलती होगी तो आपको फिर से उस गलती को सुधार होगा।
  6. और यदि उसमें किसी भी प्रकार की कोई गलती नहीं है तो आपका आवेदन के लिए भेज दिया जाता है और फिर आप मनरेगा पशु शेड योजना का लाभ उठा पाएंगे।
  7. इस प्रकार से आपका Mgnrega pashu Shed Yojana के अंतर्गत आवेदन सफलतापूर्वक समाप्त हो जाता है।

Mgnrega pashu Shed Yojana FAQ

Q1. मनरेगा पशु शेड योजना के अंतर्गत कितना पैसा मिलता है?

Ans:- मनरेगा पशु शेड योजना के अंतर्गत 2 पशु होना अनिवार्य है। अगर पशुपालक आवेदनकर्ता के पास 2 पशु हैं तो उनको₹75000 की वित्तीय सहायता दी जाएगी। वहीं अगर पशुपालक आवेदन कर्ता के पास 6 पशु हैं तो आवेदन करता को ₹160000 तक वित्तीय सहायता दी जाएगी।

Q2. मनरेगा पशु शेड योजना क्या है?

Ans:- इसके अंतर्गत जो किसान अपने पशुओं का पालन पोषण ठीक से नहीं कर पाते उन गरीब पशुपालकों के लिए मध्य प्रदेश की सरकार ने मनरेगा पशु शेड योजना पारित की है इसके अंदर किसानों की जमीन पर पशुओं के लिए शेड बनवाए जाएंगे वह पानी की टंकी आदि भी बनवाई जाएगी।

Q3. मनरेगा पशु शेड योजना किन किन राज्यों में लागू की गई है?

Ans:- मनरेगा पशु शेड योजना मध्य प्रदेश के साथ ही 3 और राज्यों में लागू की गई हैं। इस योजना के अंतर्गत बिहार, उत्तर प्रदेश एवं पंजाब आदि राज्यों में भी इसका लाभ मिल रहा है।

Q4. मनरेगा पशु शेड योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

Ans:- मनरेगा पशु शेड योजना के अंतर्गत अभी तक ऑनलाइन आवेदन के लिए किसी भी प्रकार की कोई अधिकारी वेबसाइट जारी नहीं की गई है। इसमें आवेदन करने के लिए आपको किसी बैंक से इसका फॉर्म प्राप्त करना होगा वह उसे भरकर बैंक में जमा करवाना होगा।

Q5. मनरेगा पशु शेड योजना के तहत किसे लाभ मिलेगा?

Ans:- मनरेगा पशु शेड योजना के तहत उन पशु पालक किसानों को इसका लाभ मिलता है जो पशु को पालते हैं जिनके पास अधिकतम दो पशु हैं वहीं इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

Conclusion

उम्मीद करता हूं दोस्तों आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होगी। आज किस पोस्ट में हमने Mgnrega pashu Shed Yojana के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त की है। यदि आपको इस योजना से संबंधित कोई समस्या है तो आप हमें कमेंट कर पुछ सकते हैं। हम आपकी समस्या को दूर करने की पूरी कोशिश करेंगे मिलते हैं। अगली पोस्ट में तब तक ले धन्यवाद।।

अन्य खबरे पढ़े

[feed url=”https://kisanyojana.org/feed/” number=”10″]
About Vinod Yadav

My name is Vinod Yadav and I am from Haryana. Although I do a job, but I am fond of writing. This blogging starts from here again. I belong to a farming family, so I have a good knowledge of agriculture. I am also an engineer in textile, so the market and plans are also taken care of. There's just one drawback. Bless you all. Hope to keep it. Jai Hind, Jai Jawan - Jai Kisan

Leave a Comment