Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan 2023 | आत्मनिर्भर रोजगार अभियान

Written by Priyanshi Rao

Published on:

Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan: कोरोना कीतनी बड़ी महामारी थी, यह तो हम सब जानते ही हैं। कोराना महामारी ने देश ही नहीं बल्कि पूरे विश्व को बदल कर रख दिया। लेकिन फिर भी अब कोरोना का प्रकोप अभी खत्म नहीं हुआ है। एवं इसी कोरोना महामारी ने भारत के कई लोगों का रोजगार छीना,, कई लोग इस महामारी के चलते बेरोजगार हुए।

इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए, भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने एवं उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मिलकर उत्तर प्रदेश के लिए आत्मनिर्भर रोजगार अभियान को संचालित करने की घोषणा की है। इस अभियान का संचालन एक वीडियो कांफ्रेंस के जरिए किया गया है, यह वीडियो कॉन्फ्रेंस शुक्रवार को लगभग 11:00 बजे शुरू कि गई थी। जिसमें नरेंद्र मोदी जी ने आत्मनिर्भर रोजगार अभियान की घोषणा की थी।‌

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान क्या है?, आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के उद्देश्य क्या है?, आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के लाभ क्या है?, आत्मनिर्भर रोजगार अभियान की मुख्य बातें क्या है?, आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के तहत उत्तर प्रदेश के जिलों की सूची, आत्मनिर्भर रोजगार अभियान में आवश्यक पात्रता क्या है?, आत्मनिर्भर रोजगार अभियान में आवश्यक दस्तावेज, आत्मनिर्भर रोजगार अभियान में आवेदन की प्रक्रिया क्या है? एवं आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अन्य कार्यक्रम क्या है? इत्यादि प्रकार के सभी बिंदुओं के बारे में आज के इस आर्टिकल में हम विस्तार से चर्चा करेंगे।

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान क्या है? (Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan kya hai)

हमारे भारत देश के कई युवा ऐसे हैं जो कोरोनावायरस के प्रकोप से बेरोजगार हो गए। इसी के साथ उत्तर प्रदेश राज्य में भी लगभग 30 लाख प्रवासी ऐसे हैं जो कोरोनावायरस के प्रकोप से रोजगार को बंद करके अपने घरों में वापस आ गए हैं। इन सभी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश राज्य में आत्मनिर्भर रोजगार अभियान की शुरुआत की गई है। इस अभियान के जरिए इन सभी को रोजगार प्रदान किया जाएगा।

इस योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश की योगी सरकार एवं भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा की गई है। उत्तर प्रदेश के सभी बेरोजगारों को रोजगार प्रदान किया जाए इस बात को लेकर शुक्रवार 11:00 बजे एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में इस अभियान को शुरू करने की बात कही गई है।

इस योजना के जरिए लगभग एक करोड़ लोगों को रोजगार प्रदान किया जाएगा, जो कि अब तक का उत्तर प्रदेश राज्य का सबसे बढ़िया एवं बड़ा अभियान होगा। इस अभियान के साथ उत्तर प्रदेश के सभी कामगार एवं गरीब लोगों को भी जोड़ा जाएगा। अगर आप भी उत्तर प्रदेश राज्य के निवासी हैं तो आपको इसका लाभ लेने के लिए इस योजना के तहत आवेदन करना होगा।

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के उद्देश्य

  • Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan का मुख्य उद्देश्य यह है कि कोरोना महामारी के चलते जितने भी युवा नागरिक अपने काम को छोड़कर अपने घरों में आ गए हैं उन सभी को इस अभियान के तहत रोजगार प्रदान किया जाएगा।
  • साथ ही उत्तर प्रदेश के सभी गरीब वर्गों एवं कामगार लोगों को इस योजना के तहत रोजगार प्रदान किया जाएगा एवं कोरोना महामारी की वजह से जो लोग अपने घरों में ही रहते हैं और उनके रोजगार उजड़ चुके हैं तो उनको भी इसके तहत रोजगार प्राप्त करवाया जाएगा।
  • इस योजना का दूसरा बड़ा उद्देश्य यह है कि उत्तर प्रदेश के लगभग एक करोड़ लोगों को इस योजना का लाभ प्रदान करवाया जाए।

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के लाभ एवं विशेषताएं

 Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan की विशेषता यह है कि उत्तर प्रदेश के लगभग सभी युवाओं को इस योजना के तहत रोजगार प्रदान किया जाएगा एवं उत्तर प्रदेश में इस अभियान को चलाने से यह फायदा होगा कि उत्तर प्रदेश के रोजगार क्षेत्र में वृद्धि होगी।

  • इस अभियान के तहत 25 अलग-अलग योजनाओं को एक साथ जोड़ा गया है, इससे युवाओं को लाभ अधिक होगा।
  • उत्तर प्रदेश के लगभग 31 जिलों में आत्मनिर्भर रोजगार अभियान का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के बेरोजगार लोगों को ही लाभ के रूप में रोजगार प्रदान किया जाएगा।
  • जिन भी लोगों की नौकरियां कोविड-19 के तहत छूट गई है उनको आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के तहत रोजगार दिया जाएगा।

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के मुख्य तथ्य

  • Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan के अंतर्गत यूपी कि योगी आदित्यनाथ जी की सरकार ने इस अभियान के तहत 25 नए कार्यों का एकीकरण भी किया है।
  • 25 नए कार्यों मैं खनन परिवहन, सड़क परिवहन, ग्राम पंचायत, पंचायती राज, पेयजल, रेलवे, स्वच्छता, पर्यावरण, रक्षा, कृषि विभाग एवं वैकल्पिक ऊर्जा इत्यादि प्रकार की विभिन्न योजनाएं सम्मिलित हैं।
  • गरीब कल्याण पैकेज के माध्यम से गरीब रोजगार कल्याण अभियान के साथ 9100 करोड रुपए का ऋण आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के तहत एमएसएमई इकाइयों को प्रदान किया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी एवं उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के द्वारा इस अभियान के तहत जो भी युवा अपने घर लौटे हैं उनको मनरेगा,ओडीओपी,एमएसएमई,ग्राम्य विकास से जुड़े विभिन्न अभियानों एवं निर्माण परियोजना को ध्यान में रखते हुए प्रदेश के 1.24 करोड़ लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे।
  • आत्मनिर्भर बेरोजगार अभियान के तहत उत्तर प्रदेश के सम्मेलन के दौरान राज्य के मछुआरे जो घर आए थे उनमें से लगभग 3000000 मछुआरों की मडलिंग मेपिंग की जाएगी।

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के तहत उत्तर प्रदेश के लाभार्थी जिलों की सूची

Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan के तहत उत्तर प्रदेश के निम्नलिखित जिलों को जोड़ा गया है एवं इस अभियान के अंतर्गत लगभग 3230 ग्राम पंचायतों को भी जोड़ा गया है।

  • बंदा
  • संत कबीर नगर
  • कुशीनगर
  • सुल्तानपुर
  • गोरखपुर
  • हरदोई
  • ए.टी
  • आजमगढ़
  • बलरामपुर
  • जौनपुर
  • गोड़ा
  • महाराजगंज
  • बहराइच
  • अयोध्या
  • देवरिया
  • रायबरेली
  • अमेठी
  • श्रावस्ती
  • लखीमपुर खीरी
  • उन्नाव
  • अंबेडकरनगर
  • सीतापुर
  • वाराणसी
  • प्रतापगढ़
  • गाजीपुर
  • कौशांबी
  • सिद्धार्थनगर
  • जालौन
  • प्रयागराज
  • फतेहपुर
  • मिर्जापुर

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान में आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक की बैंक डायरी
  • आवेदक के मोबाइल नंबर
  • आवेदक की ईमेल आईडी
  • आवेदक का ड्राइविंग लाइसेंस
  • आवेदक का प्रमाण पत्र
  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र
  • आवेदक का जाति प्रमाण पत्र
  • आवेदक का राशन कार्ड
  • आवेदक की पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक पहचान पत्र
  • आवेदक की दसवीं की मार्कशीट एवं बारवीं की मार्कशीट
  • आवेदक का आधार कार्ड

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के तहत आवश्यक पात्रता

  • Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan के तहत आवेदक की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए तभी वह इसके लिए पात्र समझा जाएगा।
  • आवेदन करता उत्तर प्रदेश राज्य का मूल निवासी होना चाहिए।
  • इस अभियान के तहत आवेदन करने वाला बेरोजगार एवं गरीबी स्थिति की सीमा रेखा के नीचे रहने वाला नागरिक होना चाहिए।

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत अन्य कार्यक्रम

 आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत लगभग 5000 कारीगरों को ODOP एवं विश्वकर्मा सर्व सम्मान के तहत किट वितरण किया जाएगा।

  • उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार के द्वारा लगभग 1.11 लाख नई इकाइयों को 3226 करोड़ रुपए का ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • इस अभियान के जरिए उत्तर प्रदेश के 1.25 लाख काम करने वाले युवकों को निजी कंपनियों में नौकरियां प्रदान की जाएगी।
  • नरेंद्र मोदी जी एवं योगी सरकार के द्वारा लागू किए गए इस अभियान के अंतर्गत 2.40 लाख इकाइयों को आत्मनिर्भर भारत के तहत लगभग 5900 करोड़ रुपए का कर्ज प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत 1.25 लाख कामगारों के नियोजन की व्यवस्था की गई है।

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया

आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के जो भी प्रवासी युवक आवेदन करना चाहते हैं उन सभी प्रवासी युवकों को अभी थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा। क्योंकि इस योजना को अभी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी एवं उत्तर प्रदेश के योगी सरकार के द्वारा शुरू नहीं किया गया है केवल इसको संचालित करने की घोषणा की गई है।

जैसे ही इस योजना को पूर्ण रुप से लागू कर दिया जाएगा हम आपको हमारे आर्टिकल के माध्यम से सूचित कर देंगे। क्योंकि इस अभियान को 26 जून शुक्रवार के दिन 11:00 बजे शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए शुरू करने की घोषणा की गई है इसलिए इसे लागू होने में थोड़ा समय लगेगा। तथा अभी इस योजना में आवेदन के लिए कोई वेबसाइट नहीं आई है।।

FAQ

Q1. आत्मनिर्भर रोजगार अभियान को किसने शुरू किया है?

Ans:- Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी एवं उत्तर प्रदेश योगी सरकार के द्वारा की गई है। इस योजना की शुरुआत शुक्रवार के दिन एक वीडियो कांफ्रेंस के जरिए 11:00 बजे की गई थी। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में इसे लागू करने की घोषणा की बात कही गई थी।

Q2. आत्मनिर्भर निर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत कितने नए रोजगार अवसरों को उपलब्ध कराया जाएगा?

Ans:- आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा लगभग एक करोड़ नए रोजगार अवसरों को उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस लक्ष्य से उत्तर प्रदेश के लगभग सभी युवाओं को रोजगार के अवसर मिल जाएंगे।

Q3. आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत लगभग कितने कार्यों को चयनित किया गया है?

Ans:- Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan के अंतर्गत लगभग उत्तर प्रदेश राज्य के 25 कार्यों को चिन्हित किया गया है जो कि इस अभियान की एक मुख्य शाखा है।

Q4. आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता होती है?

Ans:- आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

आवेदक के मोबाइल नंबर, आवेदक की मेल आईडी, आवेदक का राशन कार्ड, आवेदक का मूल निवास प्रमाण पत्र, आवेदक की 10वीं एवं 12वीं की मार्कशीट, आवेदक की बैंक डायरी एवं आवेदक का आय प्रमाण पत्र इत्यादि।

Q5. आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के अंतर्गत बजट कितना है?

Ans:- उत्तर प्रदेश के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने Atma Nirbhar Rojgar Abhiyan के तहत 12 मई को 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज को प्रदान करने की घोषणा की गई थी। यह पैकेज कुल 20 लाख 97 हजार 53 करोड रुपए का था। इस पैकेज में 12 मई के ऐलान से पहले ही उत्तर प्रदेश सरकार को 1.92 लाख करोड़ रुपए का पैकेज भी प्रदान कर दिया था।

Related Keytags: atmanirbhar bharat rojgar abhiyan, atma nirbhar scheme details, atma nirbhar bharat abhiyan meaning, atma nirbhar bharat rojgar yojana upsc, atma nirbhar rojgar yojana, atma nirbhar bharat rojgar yojana, aatm nirbhar bharat rojgar yojana upsc, atmanirbhar rozgar yojana upsc, atmanirbhar rozgar yojana, atmanirbhar bharat rozgar yojana in hindi, atmanirbhar bharat rozgar yojana upsc, atmanirbhar bharat rojgar yojana (abry) upsc, atmanirbhar bharat rojgar yojana (abry) in hindi, atmanirbhar rojgar yojana upsc,

About Priyanshi Rao

Name is Priyanshi and job is to pen. By the way, nowadays the keyboard button has replaced the pen and now the pen has the same address. I have a penchant for writing, that's why apart from plans, business, I have more grip on farming and I write articles on these. Started from here but off to a good start. The happiness you get after seeing the right information. hope to continue

Leave a Comment