आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना उत्तर प्रदेश | Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana

Written by Priyanshi Rao

Published on:

Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana: पुराने समय से ही भारत में कृषकों एवं कृषि कार्यों को अधिक महत्व मिला है। क्योंकि कृषि ही हमारे भारत देश का आधार हैं। भारत के आधे से ज्यादा नागरिक कृषि कार्य को करने में रुचि रखते हैं। साथ ही आज के युग में अधिक महंगाई होने के कारण किसानों का खर्चा नहीं चल पाता। एवं खेती में भी उन्हें अब कम लाभ होने लगा है, इस प्रकार की स्थिति को देखते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश राज्य के किसानों के लिए आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को संचालित किया है। इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के किसानों की आय में वृद्धि कि जाएगी एवं उन्हें अच्छा जीवन जीने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इस योजना से उत्तर प्रदेश के सभी किसानों को आत्मनिर्भर एवं कृषि कार्य के प्रति सशक्त बनाया जाएगा।

Table of Contents

Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana क्या हैं?, Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के उद्देश्य क्या हैं?, Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के क्या लाभ हैं? एवं इसकी क्या विशेषता है?, Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana में आवश्यक पात्रता क्या हैं?, Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana की मुख्य बातें क्या हैं?, Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana में आवश्यक दस्तावेज क्या हैं? एवं Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana में आवेदन की प्रक्रिया क्या हैं? इत्यादि प्रकार के सभी बिंदुओं के बारे में आज के इस आर्टिकल में हम विस्तार से जानकारी प्राप्त करेंगे। इसलिए इस पोस्ट को पूरा अवश्य पढ़ें।।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना क्या हैं? (Atma Nirbhar Krishak Samanvit Vikas Yojana kya hai)

प्रत्येक बार उत्तर प्रदेश कि सरकार उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए कई नई नई योजनाओं का संचालन करती रहती हैं, इस बार भी उत्तर प्रदेश की सरकार ने किसानों की आय को लेकर आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के किसान भाइयों की आय में वृद्धि की जाएगी एवं उनको वित्तीय राशि के रूप में लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना के संचालन के लिए उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा ₹1 करोड़ रुपए का बजट पारित किया गया है। यह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा शुरू की गई योजना है। इस योजना के कारण उत्तर प्रदेश में नई तकनीकी एवं फसलों में वृद्धि होगी। इस योजना के माध्यम से किसानों की आय को दोगुना किया जा सकता है। इस योजना में लाभ लेने के लिए किसानों को आवेदन करना होगा।

Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत एफपीओ से जुड़े किसानों को ₹500000 तक का लोन दिया जाता है। एवं साथ ही उत्तर प्रदेश के सभी किसान भाइयों को कम ब्याज की दर पर लोन दिया जाएगा।

किसानों को राज्य सरकार के द्वारा 4% अनुदान भी प्रदान किया जाएगा। और साथ ही अगले आने वाले 5 वर्षों वर्षों में राज्य सरकार ने इस योजना के लिए 722.85 करोड़ रुपए का बजट पास किया है। इस योजना की अनुमति उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री परिषद के द्वारा दी गई हैं।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना का उद्देश्य

  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Vikas Yojana का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश राज्य के सभी किसानों को आत्मनिर्भर बनाना एवं लाभान्वित जीवन जीने के लिए सफल बनाना है।
  • किसानों की आय में वृद्धि करना एवं इस योजना का उद्देश्य यह भी है कि सभी किसान भाइयों को अधिक से अधिक आय में वृद्धि कराई जाए, जिससे वह प्रदेश के विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सके।
  •  इससे राज्य की कृषि व्यवस्था में अधिक से अधिक लाभ होगा एवं किसानों कि वित्त राशि में भी अधिक से अधिक वृद्धि होगी।
  • इन सभी लाभ के कारण किसानों की आर्थिक समस्याओं में कमी आएगी एवं राज्य की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा।
  • साथ ही इस योजना का बड़ा उद्देश्य यह है कि राज्य के सभी कृषक परिवार को जीवन जीने का बेहतर तरीका एवं कृषक परिवार को विकसित परिवार बनाया जाए।
  • इस योजना के अंतर्गत लगभग उत्तर प्रदेश के सभी किसान भाइयों को लाभ प्रदान किया जाएगा, जिससे उत्तर प्रदेश की सरकार के प्रति उत्तर प्रदेश के किसानों में आदर की भावना का संचालन होगा।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत होने वाला लाभ

  • उत्तर प्रदेश राज्य के लगभग सभी निम्न कृषक परिवारों को इस योजना के तहत लाभान्वित किया जाएगा।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत किसानों की आय में वृद्धि की जाएगी, जिनसे उनके जीवन जीने की कला में सुधार आएगा।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य में जैविक खेती में 10 से 20% तक कि वर्दी की जाएगी।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के शुरू होने से उत्तर प्रदेश में मशीनों की उपलब्धता की लागत में भी कमी देखने को मिलेगी इससे किसानों को लाभ पहुंचेगा।
  • एवं साथ ही इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य में कृषि के लिए कोल्ड स्टोरेज की स्थापना की जाएगी जिससे सभी कृषकों को कृषि करने में आसानी होगी एवं कृषि कार्य में नुकसान भी बहुत कम होगा।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य के सभी कृषक परिवार समृद्ध बनेंगे जिनसे व उत्तर प्रदेश की विकास गति को बढ़ावा प्रदान करेंगे।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत यूपी सरकार के द्वारा प्रदेश की सभी योजनाओं की लेन में क्रियाव्यन खेल को खत्म किया जाएगा, जिससे किसानों को बहुत बड़ा फायदा होगा।
  • इस योजना का लाभ आवेदक के बैंक खाते में सीधा ट्रांसफर कर दिया जाएगा, जिससे सरकार को एवं आवेदक दोनों को ही लाभ होगा क्योंकि आवेदक को सरकारी दफ्तरों में इधर-उधर भागना नहीं पड़ेगा एवं सरकार को वित्तीय राशि गिनने में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं आएगी।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Vikas Yojana से उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में काफी सुधार होगा।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना में आवश्यक पात्रता

  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana में आवेदन करने वाला आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य का मूल निवासी होना चाहिए, तभी वह इस योजना के अंतर्गत पात्र समझा जाएगा।
  • आवेदक का बैंक खाता होना आवश्यक है क्योंकि इस योजना की वित्तीय राशि उनके बैंक खातों में प्रदान की जाएगी।
  • बैंक खाता होने के साथ-साथ ही आवेदक के मोबाइल नंबर एवं आधार कार्ड बैंक डायरी से लिंक होना चाहिए तभी वह इस योजना के लिए पात्र समझा जाएगा।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana में लाभ लेने के लिए उत्तर प्रदेश राज्य के कृषकों के पास अपनी खुद की जमीन होनी चाहिए।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक के पास जमीन से संबंधित सभी आवश्यक दस्तावेज भी होने चाहिए।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana में आवेदन करने के लिए किसान की उम्र 20 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Vikas Yojana में आवेदन के लिए किसान पेशे से भी किसान होना चाहिए।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत पारित किया गया बजट एवं इस योजना से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण बातें

  • आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना में सभी किसानों की आय में वृद्धि की जाएगी, इस कारण से सरकार के द्वारा इसको संचालित करने के लिए एक करोड़ रुपए का बजट पास किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत अगर किसान खेती के लिए ऋण लेता है तो फिर उस किसान को ऋण के रूप में वित्तीय राशि प्रदान की जाएगी।
  • ऋण के रूप में वित्त राशि देने के लिए सरकार के द्वारा इस योजना में 400 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
  • एवं Atma Nirbhar Krishak Samanvit Vikas Yojana के अंतर्गत उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा फ्रि जल की सुविधा देने के लिए सरकार के द्वारा इस योजना में 700 करोड़ रुपए का बजट पारित किया गया है।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana में आवेदन करने वाले कृषक परिवार को लाभ के रूप में लगभग ₹5 लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana में उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए 2725 कृषक संगठनों का निर्माण 5 साल के अंदर किया गया है। एवं इन कृषक संगठनों से लगभग 27.25 शेयर होल्ड किसानों को सीधा लाभ दिया जाएगा।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत बजट

  • आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत राज्य में महिला सामर्थ्य के लिए भी उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा 200 करोड़ रुपए का बजट पारित किया गया है जिससे महिलाओं को लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • Atma Nirbhar Krishak Samanvit Vikas Yojana 2023 के अंतर्गत उत्तर प्रदेश की सरकार ने मुख्यमंत्री समक्ष सुपोषण योजना को भी लागू करने को कहा है इस योजना के संचालन के लिए यूपी सरकार के द्वारा 100 करोड़ रुपए का बजट पारित किया गया है। इसके अंदर उत्तर प्रदेश के 6 महीने से लेकर 5 वर्ष तक के बच्चे एवं 11 वर्ष से लेकर 14 साल तक की बालिकाओं का भरण पोषण के लिए वित्तीय राशि प्रदान की जाएगी।
  • आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश की सरकार ने उत्तर प्रदेश के लिए मुख्यमंत्री समग्र संपदा विकास योजना को भी लागू किया है इस योजना को संचालित करने के लिए उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा लगभग 100 करोड़ रुपए का बजट पारित किया गया है।

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना में आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आवेदक के मोबाइल नंबर
  • आवेदक की बैंक डायरी
  • आवेदक की ईमेल आईडी
  • आवेदक का राशन कार्ड
  • आवेदक का आय प्रमाण पत्र
  • आवेदक की पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र
  • आवेदक के भूमि से जुड़े सभी आवश्यक दस्तावेज
  • आवेदक का पहचान पत्र

आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana के अंतर्गत आवेदन करने के लिए उत्तर प्रदेश के सभी किसान बहुत ही उत्साहित लेकिन आपको बता देते हैं कि इस योजना की हाल ही में घोषणा की गई हैं; अतः इस योजना में आवेदन के लिए अभी तक कोई भी प्रक्रिया का संचालन नहीं किया गया है। इस योजना में आवेदन करने के लिए सभी किसान भाइयों को थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा। उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा बहुत जल्दी इस योजना में आवेदन की प्रक्रिया को जोड़ा जाएगा जैसे ही इस योजना में आवेदन की प्रक्रिया का संचालन होगा हम आपको हमारे लेख के माध्यम से सूचित कर देंगे।

Atma Nirbhar Krishak Samanvit Yojana FAQ

Q1.आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को शुरू करने के क्या-क्या कारण हैं?

Ans:- Atma Nirbhar Krishak Samanvit Vikas Yojana को शुरू करने का मुख्य कारण यह है कि उत्तर प्रदेश के सभी किसानों की आय में वृद्धि की जा सके। एवं साथ ही राज्य में कृषि की पैदावार अधिक होगी क्योंकि किसानों की आय में वृद्धि होगी तो उन्हें कृषि कार्य करने में किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा इसी कारण से इस योजना को शुरू किया गया है।

Q2. आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को किसने शुरू किया है एवं इसमें कितने रुपए तक का बजट पारित किया गया है?

Ans:- आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश राज्य में संचालित किया है एवं इस योजना के संचालन के लिए उत्तर प्रदेश की सरकार ने इस योजना में लगभग 100 करोड़ रुपए का बजट पारित किया है।

Q3. आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को शुरू करने के लिए भारत के किस राज्य ने मंजूरी दी है?

Ans:- आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना को लागू करने के लिए भारत के उत्तर प्रदेश राज्य ने मंजूरी दी है। उत्तर प्रदेश के कैबिनेट कृषि कैबिनेट क्षेत्र को एवं किसानों की आय को बढ़ाने के उद्देश्य से इस योजना को शुरू किया जाएगा।

Q4:- आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना के अंतर्गत आवेदन के लिए आवेदक के पास कौन कौन से दस्तावेज होना जरूरी है?

Ans:- Atma Nirbhar Krishak Samanvit Vikas Yojana के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदक के पास निम्नलिखित दस्तावेज होना आवश्यक है।

आवेदक का आधार कार्ड, आवेदक की ईमेल आईडी, आवेदक का मोबाइल नंबर, आवेदक का आय प्रमाण पत्र, आवेदक का निवास प्रमाण पत्र, आवेदक की पासपोर्ट साइज फोटो, आवेदक की बैंक डायरी, आवेदक के जमीन से संबंधित आवश्यक दस्तावेज एवं आवेदक का आवासीय प्रमाण पत्र इत्यादि।

Q5. आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश में कब हुई?

Ans:- आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश राज्य में योगी सरकार के द्वारा 2023 में की गई है। किसानों की आय में वृद्धि करने के लक्ष्य से इस योजना को शुरू किया गया है एवं इसके अंतर्गत अभी तक आवेदन की कोई प्रक्रिया प्रकाशित नहीं की गई है।

About Priyanshi Rao

Name is Priyanshi and job is to pen. By the way, nowadays the keyboard button has replaced the pen and now the pen has the same address. I have a penchant for writing, that's why apart from plans, business, I have more grip on farming and I write articles on these. Started from here but off to a good start. The happiness you get after seeing the right information. hope to continue

Leave a Comment